Sunday, September 19, 2021

Money Heist (मनी हाईस्ट) Recap In Hindi: Season 5 ‘Story So Far’

नेटफिल्क्स के दर्शकों के लिए 3 सितम्बर का दिन किसी जश्न से कम नही है | हो भी क्यूँ ना, दुनिया भर में बेइंतहा लोकप्रिय हो चुकी स्पेनिश वेब सीरीज़ ‘मनी हाईस्ट’ (Money Heist) के पांचवें पार्ट का पहला वॉल्यूम इसी दिन रिलीज़ होने जा रहा है | किस बेसब्री से दर्शक आने वाले एपिसोड का इंतज़ार कर रहे हैं, इसका एक मज़ेदार उदहारण जयपुर,राजस्थान की सॉफ्टवेयर कम्पनी वेर्वेलॉजिक है | जिसने ‘मनी हाईस्ट’ (Money Heist) के नए पार्ट को देखने के लिए अपने पूरे स्टाफ को 3 सितम्बर के दिन छुट्टी दे दी है |  

निर्देशक एलेक्स शीना (Alex Pina) की वेब सीरीज़ ‘मनी हाईस्ट’ (Money Heist) के नए सीज़न को लेकर उत्सुकता चरम पर है | “कट्प्पा ने बाहुबली को क्यूँ मारा था ?” जैसा यक्ष प्रश्न अब यह भी बन गया है कि “क्या प्रोफ़ेसर पकड़ा गया ?” अगर हाँ तो इनके मिशन का क्या होगा ? इन सारे सवालों का जवाब मिलने में अब कुछ ही घंटे बचे हैं, लेकिन उससे पहले एक ज़रूरी काम करना ना भूले | वह है पहले, दूसरे सीज़न की अब तक की कहानी और उसके अंत को एक बार रिफ्रेश ज़रूर करें | जिससे कि नए एपिसोड की कहानी को ठीक उसी जगह से पकड़ने में सहूलियत रहेगी, जहाँ दूसरे सीज़न के चौथे एपिसोड में खत्म हुई थी | हम इस लेख के माध्यम से ‘मनी हाईस्ट’ से जुड़ी आपकी स्मृतियों को फिर से तारोताजा करने की कोशिश कर रहे हैं |


‘Money Heist’ Season 1 & 2 Recap in Hindi

‘मनी हाईस्ट’ मतलब पैसे की लूट या डकैती | वेब सीरीज़ के इस सीज़न में हमने ‘रॉयल मिंट ऑफ़ स्पेन, मेड्रिड’ के अन्दर जाकर 2.4 बिलियन डॉलर छापने और पैसा लेकर अपनी बनाई हुई सुरंग से भागने की प्रोफेसर की दुस्साहसिक योजना को उसकी टीम के द्वारा सफल बनाते हुए देखा था | 

प्रोफ़ेसर और उसकी टीम 

प्रोफेसर (अलवरो मोर्ते), इस पूरी योजना का मास्टरमाइंड था | उसने आगे-पीछे होने वाली सारी संभावित घटनाओं का ब्लू प्रिंट अपने दिमाग में बना रखा था | सोशल मीडिया में लोग अक्सर मज़ाक में कहते हैं कि ‘दुनिया में कोई ऐसी बात या चीज़ नहीं है जिसकी प्रोफ़ेसर ने पहले से तैयारी न कर रखी हो” | सचमुच वह एक ऐसा जीनियस लगता है जो कुछ भी कर सकता है | पुलिस समेत अन्य सरकारी, प्रशासनिक संस्थाओं के पास उसके होने या ना होने का कोई रिकॉर्ड नही है क्योंकि 19 साल की उम्र के बाद उसने कभी कोई पहचान पत्र (आई. डी.) अपडेट ही नहीं कराया था | पुलिस के लिए प्रोफ़ेसर एक ऐसा रहस्यमयी व्यक्ति था जो होकर भी कहीं नहीं था | 

रॉयल मिंट से जुड़े मिशन को पूरा करने की जिम्मेदारी आठ लोगों के कन्धों पर थी | यह आठों अपने-अपने काम में माहिर थे, जिन्हें प्रोफ़ेसर ने बहुत जाँच-परख कर चुना था | असली पहचान छिपाने के लिए इनके छद्म नाम रखे गए जो दुनिया के बड़े शहरों के नाम पर आधारित थे | यह आठ लोग थे – 1.बर्लिन, 2. टोक्यो, 3. मास्को, 4.नैरोबी, 5. रिओ , 6.डेनवेर, 7. हेलेंस्की और 8. ओस्लो |  रॉयल मिंट को लूटने के लिए प्रोफ़ेसर ने अपनी टीम को 5 महीने का प्रशिक्षण दिया था | प्रोफेसर की प्लानिंग के मुताबिक रॉयल मिंट के अन्दर टीम की अगुवाई बर्लिन (पेड्रो अलोंसो) करता है जबकि प्रोफ़ेसर खुद बाहर रहते हुए टीम को गाइड करता है |

डकैती का सत्ता विरोधी रूप 

रॉयल मिंट बैंक के भीतर पहुंचे सभी 8 लोगों ने लाल जम्प सूट पहना था और स्पेनिश पेंटर ‘साल्वाडोर डाली’ का मुखौटा लगाया हुआ था | यह सारे प्रतीक इनके सत्ता विरोधी चरित्र को सामने लाते हैं | साथ ही उन्हें, विद्रोह और क्रांति को अभिव्यक्ति देने वाले विख्यात इतालवी लोकगीत ‘बेला सियाओ…’ गाते हुए भी दिखाया गया है | प्रोफेसर और उसकी टीम खुद को सामान्य अपराधी की तरह नहीं देखती है | उनका मानना है कि वह किसी व्यक्ति की संपत्ति नही लूट रहे हैं बल्कि सरकार को लूट रहे हैं जो उनके बर्बाद हो चुके जीवन की वजह है | 

सारे नियम टूटे 

प्लानिंग में प्रोफ़ेसर ने इस बात का खास ध्यान रखा और अपनी टीम को अच्छे से समझाया भी कि उन्हें जनता को अपने पक्ष में रखना है | ऐसा करने के लिए यह ध्यान रखना होगा कि किसी का खून ना बहे | साथ ही बैंक को लूटने की इस योजना से जुड़े लोगों को एक दूसरे के साथ निजी जानकारी साझा करने और भावनात्मक व्यक्तिगत संबंध बनाने की मनाही थी | लेकिन डकैती के दौरान यह सारे ही नियम टूटते हैं | डेनेवर बंधक बनाई गई बैंककर्मी मोनिका के और खुद प्रोफ़ेसर इंस्पेक्टर राकेल, जो नेशनल पुलिस की तरफ से बातचीत कर रही थी, के प्रेम में पड़ते हैं | खून भी बहा और हत्याएं भी हुई | 

सफलता 

बैंक के भीतर प्रोफेसर की टीम 67 लोगों को बंधक बनाती है और उन्हें भी लाल जम्पसूट, डाली मास्क पहना देती है जिससे कि पुलिस बंधकों और बैंक लूटने आए लोगों में अंतर ना कर सके | उतार-चढ़ाव, आशा-निराशा, टूटने-बिखरने, संदेहों, आशंकाओं के कई मोड़ से गुजरने के बाद प्रोफ़ेसर की टीम पार्ट 2 के अंत में रॉयल मिंट ऑफ़ स्पेन से 984 डॉलर ले कर भागने में कामयाब हो जाती है | 

बिछड़ गए साथी 

व्यक्तिगत रूप से खुद प्रोफेसर को और उसकी टीम को इस कामयाबी की बड़ी कीमत भी चुकानी पड़ी | उनके तीन साथी ओस्लो, मोस्को और बर्लिन इस अभियान में मारे जाते हैं | अंत में यह राज़ भी दर्शकों के सामने खुलता है कि बर्लिन प्रोफेसर का बड़ा भाई था |

राकेल का प्रोफ़ेसर से मिलना 

प्रोफ़ेसर के साथ हमदर्दी रखने के कारण राकेल को अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ता है | रॉयल मिंट की घटना के एक साल बाद राकेल प्रोफ़ेसर के दिए पोस्टकार्ड के ज़रिए उस तक पहुँचने में सफल रहती है, जो उस समय फिलिपीन्स में रह रहा होता है | 


‘Money Heist’ Season 3 & 4 Recap in Hindi

सीज़न 2 के पहले एपिसोड में हमें रॉयल मिंट की लूट के बाद प्रोफ़ेसर, समेत उसकी टीम के सभी लोग अलग-अलग जगहों पर अपनी ज़िन्दगी आराम से बिताते हुए नज़र आते हैं | चूँकि इनके बीच यह बात तय थी कि कभी एक दूसरे से बात नहीं करना है और ना ही मिलना है | इसलिए जब टोक्यो प्रोफ़ेसर को खोजते हुए फिलिपीन्स पहुँचती है वह समझ जाता है कि आराम और सुकून की जिंदगी ख़त्म हुई और एक नई प्लानिंग और नए अभियान की ज़रूरत आ पड़ी है |  

नए मिशन की ज़रूरत क्यूँ 

प्रोफ़ेसर एक नए मिशन के लिए अपने साथियों को फिर से इक्कठा करना शुरू करता है | दराअसल रिओ टीम के बनाए नियम को तोड़ते हुए टोक्यो को फ़ोन करता है और यूरोपोल फ़ोन कॉल ट्रेस करते हुए उसे पकड़ लेती है | अपने पुराने साथी रिओ को पुलिस की प्रताड़ना से बचाने और उसकी रिहाई के लिए इस मिशन की शुरुआत की गई | 

नया मिशन क्या है ? 

प्रोफेसर अपने भाई बर्लिन के बैंक ऑफ़ स्पेन से सोना चुराने के एक पुराने सपने को रिओ की रिहाई का आधार बनाता है | फ्लैशबैक में हम अनेक बार प्रोफ़ेसर और बर्लिन को बैंक ऑफ़ स्पेन लूटने की योजना बनाते हुए देखते हैं |

इस बार कुछ नए लोगों को प्लानिंग का हिस्सा बनाया जाता है | उन लोगों का कोड नाम लिस्बन [राकेल], स्टोकहोम [मोनिका], बोगोटा, पालेर्मो और मार्सिली रखा गया | प्रोफ़ेसर और राकेल बाहर रहते हुए पुलिस पर नज़र रखते हैं और अपनी टीम की मदद करते हैं | 

बैंक ऑफ़ स्पेन की अभेद सुरक्षा व्यवस्था को भेदते हुए प्रोफ़ेसर की टीम इस बार भी सोने और राज्य के गोपनीय दस्तावेजों तक पहुँचने में कामयाब हो जाती है | मजबूरन पुलिस को रिओ को रिहा करना पड़ता है | 

“बैंक की लूट नहीं, एक युद्ध है ”  

कर्नल लुईस तमायो और गर्भवती पुलिस इंस्पेक्टर अलिसिया सिएरा ने पुलिस की तरफ से कमान संभाला हुआ था | अलिसिया सिएरा नैरोबी के नौ साल के बेटे को सामने करके चालाकी से नैरोबी पर स्नाइपर गन से हमला करा देती है जिसमें नैरोबी बुरी तरह घायल हो जाती है | दूसरी तरफ पुलिस लिस्बन को पकड़ लेती और प्रोफ़ेसर को यह यकीन दिलाने में  में कामयाब हो जाती है कि लिस्बन को मार दिया गया है | उधर पुलिस बैंक पर टैंक से हमला करने की तैयारी करने लगती है | प्रोफ़ेसर और उसकी टीम खुद को चारों तरफ से घिरा पाती है | पुलिस को हर तरह के हथकंडे अपनाते देख कर प्रोफ़ेसर कहता है “अब यह केवल एक हाईस्ट या सरकार के प्रति एक विरोध नहीं रह गया है | अब यह एक युद्ध है |” 

नैरोबी की मौत 

बैंक के भीतर मौजूद प्रोफेसर की टीम किसी तरह नैरोबी की जान बचाती है | टोक्यो प्रोफ़ेसर को विश्वास दिलाती है कि पुलिस ने लिस्बन को मारने का झूठा नाटक केवल उसे कमज़ोर करने के लिए रचा है | इधर बीच बंधकों में शामिल बैंक ऑफ़ स्पेन का मुख्य सुरक्षा अधिकारी गांडिया खुद को इन लोगों के चंगुल से बचाते हुए, पुलिस से संपर्क साधने में सफल हो जाता है | गांडिया अकेले ही प्रोफेसर की पूरी टीम पर भारी पड़ता दिखता है | अंतत वह नैरोबी (एल्बा फ्लोरेस) को बड़ी बेरहमी से मार देता है | प्रोफ़ेसर और उसकी टीम के लिए यह बहुत बड़ा झटका होता है | अब नैरोबी की हत्या का बदला लेना भी इनके अभियान का एक मकसद बन जाता है |

पार्ट 4 का अंत   

पुलिस जैसे ही बैंक के भीतर मौजूद टीम के लोगों पर हमला करने वाली होती है, तभी प्रोफेसर पुलिस द्वारा रिओ के ऊपर किये गए अत्याचार और मानवाधिकार के उल्लंघन के सबूतों को जनता के लिए सार्वजनिक कर देता है | सारी बाज़ी पलट जाती है | इस खुलासे की वजह से महिला इंस्पेक्टर सिएरा को अपने पद से हाथ धोना पड़ता है | वह प्रेस कांस्फ्रेंस में अपने लिए गए निर्णयों में पुलिस और सरकार की सहमति की बात कहती है, जिसके बाद जनता की भावना प्रोफेसर और उसके साथियों के पक्ष में आ जाती है | सिएरा अब व्यक्तिगत स्तर पर प्रोफेसर की तलाश में जुट जाती है | प्रोफ़ेसर बाहरी लोगों की मदद से लिस्बन को पुलिस की कैद से छुड़ाने में सफल हो जाता है | पार्ट 4 के अंतिम दृश्यों में हम लिस्बन को बैंक ऑफ़ स्पेन के भीतर मौजूद अपने साथियों के समूह का हिस्सा बनते देखते हैं | दूसरी तरफ सिएरा, प्रोफ़ेसर को खोजने में कामयाब हो जाती है और उसकी पिस्तौल प्रोफेसर की तरफ तनी हुई नज़र आती है |


‘Money Heist’ Season 5:  सवाल जिन पर नज़र रहेगी 

आने वाले पार्ट 5 में इन सवालों पर खास ध्यान रहेगा, जो पिछले डेढ़ साल से दर्शकों को मथ रहें हैं- 

बर्लिन की प्रेमिका टाइटेनिया का क्या हुआ ?

सिएरा कौन है ?

क्या प्रोफ़ेसर पकड़ा जाता है ?

क्या राकेल अब बैंक के भीतर दल की अगुवाई करेगी ?

नैरोबी का चरित्र नज़र आएगा ? 

टोक्यो का किरदार किस दिशा में बढ़ेगा ?     

पार्ट 5 – वॉल्यूम 1, वॉल्यूम 2 

ओ टी टी प्लेटफ़ॉर्म – नेटफ्लिक्स

‘मनी हाईस्ट’ पार्ट 5 में कुल 10 एपिसोड होंगे जिन्हें दो भागों में बंटा गया है | इनके रिलीज़ होने की तारीख और समय इस प्रकार है,

वॉल्यूम 1 3 सितम्बर 2020, दोपहर 12:30 बजे 

वॉल्यूम 23 दिसम्बर 2020, दोपहर 1:30 बजे 


फिल्मची के और आर्टिकल्स यहाँ पढ़ें।

Suman Lata
Suman Lata
Suman Lata completed her L.L.B. from Allahabad University. She developed an interest in art and literature and got involved in various artistic activities. Suman believes in the idea that art is meant for society. She is actively writing articles and literary pieces for different platforms. She has been working as a freelance translator for the last 6 years. She was previously associated with theatre arts.

नए लेख